स्वराज एक्सप्रेस में शौचालय से आई बदबू, यात्रियों ने मचाया हंगामा

स्वराज एक्सप्रेस में शौचालय से आई बदबू, यात्रियों ने मचाया हंगामा

June 27, 2018 0 By narayan28

नई दिल्ली.  ट्रेन में शौचालय की बदबू और पानी न होने के चलते एसी कोच में सवार यात्रियों के लिए  कुछ घंटे काटना मुश्किल हो गया. उन्होंने चेन खींच कर गाड़ी को रोक दिया और जम कर प्रदर्शन किया. स्वराज एक्सप्रेस रोज की तरह बांद्रा टर्मिनस से जम्मू तवी के लिए रवाना हुई. जब यह ट्रेन अम्बाला कैंट स्टेशन पहुंची तो यात्रियों ने इस ट्रेन को चेन खींच कर रोक दिया. यात्री ट्रेन से उतर गए और इस ट्रेन से आगे की यात्रा करने से इनकार कर दिया. मामले की गंभीरता को देखते हुए रेलवे अधिकारी तत्काल मौके पर पहुंचे और यात्रियों की शिकायत का समाधान किया. इस पूरे घटनाक्रम के चलते यह रेलगाड़ी लगभग एक घंटे की देरी से अम्बाला कैंट स्टेशन से रवाना हो सकी.

यात्रियों ने कहा नहीं सुनी शिकायत

स्वराज एक्सप्रेस में यात्रा कर रहे यात्रियों ने अम्बाला कैंट स्टेशन पर प्रदर्शन के बाद पहुंचे रेल अधिकारियों को बताया कि ट्रेन के शौचालय से काफी बदबू आ रही थी. साथ ही शौचालय में पानी भी नहीं था. यात्रियों ने बताया कि उन्होंने कई बार कोच अटेंडेड से शिकायत की पर उसने यात्रियों की शिकायत को अनदेखा कर दिया. समस्या का समाधान न होने के चलते यात्रियों ने ट्रेन को रोक कर प्रदर्शन करने का निर्णय लिया.

स्टेशन डायरेक्टर ने यात्रियों को समझा -बुझा कर ट्रेन चलवाई

अम्बाला कैंट स्टेशन पर यात्रियों ने ट्रेन को प्लेटफाम नम्बर सात पर रोक रखा था. मामले की सूचना मिलते ही तत्काल स्टेशन के निदेशक बीएस गिल प्लेटफार्म नम्बर सात पर पहुंचे. उन्होंने यात्रियों को समझाया की वे ट्रेन को चलने दें. यात्रियों ने कहा कि एसी डिब्बे के लिए अधिक किराया देने के बाद भी उन्हें मूलभूत सुविधाएं नहीं दी जा रही हैं.

शौचालय गंदा होने व उसमें पानी न होने से कई यात्रियों को दिक्कत हुई. पर स्टेशन निदेशक ने तत्काल सफाई कर्मियों को बुला कर पूरी ट्रेन के शौचलायों की सफाई करायी और पानी भरवाया. इसके बाद यात्रियों ने ट्रेन चलने दी.

मामले की जांच के दिए गए आदेश

उत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी नितिन चौधरी ने बताया कि रेलवे ने इस मामले को काफी गंभीरता से लीया है. मंडल रेल प्रबंधक स्तर से मामले की जांच के आदेश दिए जा चुके हैं. यदि इस मामले में कोई दोषी पाया जाता है तो उस पर सख्त कार्रवाई की जाएगी.