पटना. सेवानिवृत्ति के करीब एक माह पूर्व ही पटना के अधिकारी का शव गुलजारबाग स्टेशन के पास रेलवे ट्रैक से बुधवार को बरामद किया गया. घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंच कर मामले की छानबीन में जुट गयी है. वहीं, अपने सहयोगी अधिकारी की मौत की सूचना पर विभागीय अधिकारी सहित पटना की मेयर भी मौके पर पहुंच कर घटना की जानकारी ली.

जानकारी के मुताबिक, पटना के अपर नगर आयुक्त उदय कृष्ण का शव गुलजारबाग स्टेशन के पास बुधवार की सुबह अगम कुआं स्थित महात्मा गांधी सेतु रेलवे ट्रैक पर पर मिला. शव देख कर आशंका जतायी जा रही है कि ट्रेन से कट जाने के कारण उनकी मौत हुई है. मौके पर पहुंची पुलिस शव को जब्त कर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है.

फिलहाल पुलिस छानबीन में जुटी है कि उनकी हत्या कर शव को रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया गया है या उन्होंने आत्महत्या कर ली है. मालूम हो कि एक अगस्त, 1958 को जनमे उदय कृष्ण अगले माह सेवानिवृत्त होनेवाले थे. सेवानिवृत्ति से एक माह पहले उदय कृष्ण की मौत इलाके में चर्चा का विषय बना हुआ है.

पटना नगर निगम में अपर नगर आयुक्त उदय कृष्ण मंगलवार की रात को घर से गुस्से में निकले थे. विद्यापुरी कंकड़बाग स्थित अपने घर से निकलने के समय वह कह कर निकले थे कि टहलने के लिए जा रहे हैं. देर रात तक घर नहीं लौटने पर उदय कृष्ण के परिजनों ने देर रात तक काफी खोजबीन की. देर रात तक घर वापस नहीं लौटने पर उदय कृष्ण के परिजनों ने पत्रकार नगर थाने को लापता हो जाने की सूचना दी.

बुधवार की सुबह गुलजारबाग स्टेशन के पास ट्रैक पर उदय कृष्ण का शव मिलने के बाद जीआरपी ने परिजनों की सूचना दी. साथ ही रेलवे के अधिकारी मामले की छानबीन में जुट गये हैं. डीएसपी हरीश शर्मा भी स्थिति पर नजर रखे हुए हैं. घटना की सूचना मिलने पर नगर निगम के अधिकारी और मेयर सीता साहू भी घटनास्थल पर पहुंच कर पूरे मामले की जानकारी ली.