रांची. पलामू प्रमंडल के बूढ़ा पहाड़ पर नक्सली हमले में शहीद होने वाले जवानों की संख्या सात हो गयी है. सभी के शव रांची पहुंच गये हैं. चार घायल जवानों को सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के हेलीकॉप्टर से पहले रांची के खेलगांव पहुंचाया गया.

यहां से उन्हें मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया. विस्फोट में शहीद सभी जवान झारखंड जगुआर के असॉल्ट ग्रुप (AG-40) के थे.

मृत जवानों की पहचान आरक्षी 1217 कुंदन कुमार सिंह (JAP-07, पिता : सुरेश सिंह, ग्राम : गमहाबिगहा, पो : कामगारपुर, थाना : हुसैनाबाद, जिला : पलामू), आरक्षी 749 परमानंद चौधरी (JAP-09, पिता : गणेश चौधरी, ग्राम : कुशआचक रघुनाथगंज, पो+थाना+जिला : दुमका), आरक्षी 2602 अजय कुजूर (IRB-05, पिता : दुबा कुजूर, ग्राम : लुंगटू चापाटोली, पो : लुंगटू, थाना : बसिया, जिला : गुमला), आरक्षी 2591 देव कुमार महतो (IRB-05, पिता : बलदेव प्रसाद महतो, ग्राम : महेशलिट्टी, पो : कदमा, थाना : पथरगामा, जिला : गोड्डा), आरक्षी 356 अजित ओड़ेया (लातेहार जिला बल, पिता : भैयाराम ओड़ेया, ग्राम : सोली, पो : उदयपुर, थाना : रमकंडा, जिला : गढ़वा) और कृष्ण प्रसाद नियोपाने (JAP-01, पिता : रामप्रसाद नियोपाने, ग्राम : जैप-01, पो+थाना : डोरंडा, जिला : रांची) के रूप में हुई है.

घायलों के नाम सुभाष चंद सिंह, अशरफ अली, जोनी टोप्पो और अरविंद उरांव हैं. इनमें से एक जवान की मौत हो चुकी है, जिसके नाम का पता नहीं चल पाया है.

गढ़वा के पुलिस उपमहानिरीक्षक विपुल शुक्ला ने बताया कि मंगलवार शाम लातेहार और गढ़वा जिले की सीमा पर स्थित छिंजो इलाके में नक्सलियों के होने की सूचना पर पुलिस एवं सुरक्षा बलों ने सर्च ऑपरेशन शुरू किया. सुरक्षा बलों से सामना होने पर नक्सलियों ने गोलीबारी शुरू कर कर दी और गढ़वा जिले के भंडरिया थाना क्षेत्र के बूढ़ा पहाड़ के समीप पोलपोल गांव के पास सड़क के नीचे दबाकर रखी गयी बारूदी सुरंग में विस्फोट कर दिया. इसमें झारखंड जगुआर के छह जवान शहीद हो गये. एक अन्य जवान ने बाद में दम तोड़ दिया.

खराब मौसम की वजह से घायलों को रांची पहुंचाने में देरी हुई. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि तीन दिन पूर्व खपरी महुआ के करीब माओवादिओं ने फायरिंग की थी. फायरिंग की आवाज सुनने के बाद मंगलवार को उन्हें घेरने के लिए जगुआर और सीआरपीएफ के जवान निकले थे. इसी क्रम में वे माओवादिओं के बिछाये लैंडमाइंस की चपेट में आ गये.

इधर, एसटीएफ के डीआइजी साकेत कुमार सिंह ने कहा कि ऑपरेशन में जगुआर, सीआरपीएफ 112 एवं 172 बटालियन और कोबरा बटालियन के जवान शामिल थे. ऑपरेशन में गढ़वा और लातेहार एसपी भी ऑपरेशन में शामिल थे.